एम एल के पीजी कॉलेज के तत्वाधान में पुस्तकालय सभागार में 'राष्ट्रीय एकता दिवस ' पर गोष्ठी का आयोजन

एम एल के पीजी कॉलेज के तत्वाधान में पुस्तकालय सभागार में 'राष्ट्रीय एकता दिवस ' पर गोष्ठी का आयोजन

संवाददाता के बी गुप्ता 

बलरामपुर

बलरामपुर राष्ट्रीय सेवा योजना एम एल के पीजी कॉलेज के तत्वाधान में 31 अक्टूबर 2021 को पुस्तकालय सभागार में 'राष्ट्रीय एकता दिवस ' पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी का शुभारंभ महाविद्यालय के यशस्वी एवं ऊर्जावान प्राचार्य प्रोफेसर जे पी पांडे सर ने लोह पुरुष के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित करके किया।

प्राचार्य प्रोफेसर पांडे सर ने छात्र-छात्राओं /स्वयंसेवक -स्वयं सेवकाओ को संबोधित करते हुए कहा कि लौह पुरुष अखंड भारत के स्वप्न दृष्ठा थे उनमें नेतृत्व क्षमता व निर्णय लेने की अद्भुत कला थी ।उन्होंने खंडित भारत में 562 देसी रियासतों को एकता  के सूत्र में पिरो कर अखंडता का नया स्वरूप दिया। राष्ट्र सेवा की भावना के साथ एक भारत- श्रेष्ठ भारत की संकल्पना की।
प्राचार्य  ने 29 अक्टूबर को हुई निबंध प्रतियोगिता का परिणाम घोषित किया। इस प्रतियोगिता में अंचल मिश्रा को प्रथम, अनामिका त्रिपाठी को द्वितीय, तथा वार्दा अजीज एवं साक्षी मिश्रा ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।

छात्रा सायमा ने लौह पुरुष के जीवन पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वह खंड खंड भारत को अखंड भारत की परिणित करने वाले महापुरुष थे। प्रकाक्षा त्रिपाठी ने कहा की लौह पुरुष के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी जब हम सभी 'मैं ' से उठकर 'हम' की भावना के साथ राष्ट्रीय एकता के लिए कार्य करेंगे। अतुल मिश्र ने कहा कि हमें शैक्षिक मानव मूल्यों को स्थापित करते हुए राष्ट्र सेवा की भावना से कार्य करने की आवश्यकता है।राष्ट्रीय सेवा योजना के मुख्य कार्यक्रम अधिकारी डॉ राजीव रंजन ने छात्र-छात्राओं /स्वयंसेवक -स्वयं सेविकाओं को एकता व अखंडता का संकल्प दिलाया।कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर आलोक शुक्ला ने अतिथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया।


इस अवसर पर शिक्षक संघ अध्यक्ष डॉ एस पी मिश्रा जी, परीक्षा प्रभारी डॉ सतगुरु प्रकाश जी ,शिक्षक संघ महामंत्री डॉक्टर सुनील मिश्रा जी ,कार्यक्रम अधिकारी डॉ राम रहीस जी, विपिन कुमार जी , ड्रिंकल यादव जी, सौम्या शुक्ला, जहीन हसन आदि मौजूद रहे।कार्यक्रम का सफल संचालन लेफ्टिनेंट डॉ देवेंद्र कुमार चौहान जी ने किया।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें पब्लिक न्यूज़ टी वी के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @PublicNewsTV और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @PublicNewsTV पर क्लिक करें।